बच्चे का विकास जन्म से छह महीने तक

new-born-baby-wallpapers-43-260x163

जन्म से छह हफ़्तों तक

जन्म से छह हफ़्तों तक बच्चा पीठ के बल लेता रहता है और उसका सर एक तरफ ही रहता है। अचानक हुई आवाज़ उसे चौंका देती है । दूध पीने के बाद के बाद उसे हिचकी या छींक आ सकती है ।

छह से बारह हफ्ते तक

छह से बारह हफ्ते तक बच्चे का सर पहले से ज़्यादा टिकने लगता है और वह पहले से ज़्यादा अपनी नज़र टिकने लगता है । अब उसे दूसरों का साथ अच्छा लगने लगता है और वह तरह तरह की आवाज़ें निकलता है ।अब आप उसके चेहरे पे मुस्कराहट देख सकती हैं और दूध पीते समय वह अपने आप मुंह आगे करता है ।

तीन से चार महीने तक

अब बच्चा अपने आस पास के माहौल को पहचानने लगता है। वह अपने माता पिता को देख कर मुस्कुराने लगता है ,अब उसे बड़ी और की चीज़ें अपनी तरफ आकर्षित करती हैं और वह उनके हिलने पर अपनी नज़र हिलाता है। वह अपनी हाथ में अब छुन-छुना पकड़ सकता है वह पेट के बल लेटाया जा सकता है और अब वह अपना सर अपने आप ऊपर उठाता है।

चार से पांच महीने तक

इस समय में बच्चा अपना हाथ या अंगूठा चूसने लगता है और पसंद आई चीज़ को पकड़ने की कोशिश करने लगता है , अपनी नज़र को दूर तक टिका सकता है । अब वह दूसरे लोगों को देख कर भी मुस्कुराने लगता है और तरह तरह की आवाज़ें निकलता है, अब वह अपना सर संभालने की भी कोशिश करता है।

पांच से छह महीने तक

अब बच्चा अपना सर सँभालने लग जाता है और अपनों और अजनबियों में फर्क करना सीखने लगता है , कुछ बच्चे इस समय में दूध के दांत निकलना शुरू कर देते हैं, वह हर चीज़ मुंह में डालना पसंद करते हैं ,अपनी आस पास पड़ी चीज़ों को खींच कर पास लाकर मुंह में डालने लगते हैं।

बच्चे का विकास छह से बारां महीनों तक

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

In Association with Amazon.in Copy Protected by Chetan's WP-Copyprotect.